RAKSHA BANDHAN Essay IN HINDI and IN ENGLISH | Rakhi

राखी का त्योहार कब शुरू हुआ यह कोई नहीं जानता। लेकिन भविष्य पुराण में वर्णन है कि देव और दानवों में जब युध्द शुरू हुआ तब दानव हावी होते नज़र आने लगे। भगवान इन्द्र घबरा कर बृहस्पति के पास गये। वहां बैठी इंद्र की पत्नीइंद्राणी सब सुन रही थी। उन्होंने रेशम का धागा मंत्रों की शक्ति से पवित्र कर के अपने पति के हाथ पर बांध दिया। वह श्रावण पूर्णिमा का दिन था। लोगों का विश्वास है कि इंद्र इस लड़ाई में इसी धागे की मंत्र शक्ति से विजयी हुए थे। उसी दिन से श्रावण पूर्णिमा के दिन यह धागा बांधने की प्रथा चली आ रही है। यह धागा धन,शक्ति, हर्ष और विजय देने में पूरी तरह समर्थ माना जाता है।[१९]

रक्षाबंधन का पर्व भारत के राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री के निवास पर भी मनाया जाता है। जहाँ छोटे बच्चे उन्हें राखी बाँधते हैं। रक्षा बंधन आत्मीयता और स्नेह के बंधन से रिश्तों को मज़बूती प्रदान करने का पर्व है। यही कारण है कि इस अवसर पर न केवल बहन भाई को ही नहीं अन्य संबंधों में भी रक्षा (या राखी) बांधने के प्रचलन है। गुरू शिष्य को रक्षासूत्र बाँधता है

रक्षाबंधन के अवसर पर कुछ विशेष पकवान भी बनाए जाते हैं जैसे घेवर, शकरपारे, नमकपारे और घुघनी। घेवर सावन का विशेष मिष्ठान्न है यह केवल हलवाई ही बनाते हैं जबकि शकरपारे और नमकपारे आमतौर पर घर में ही बनाए जाते हैं। घुघनी बनाने के लिए काले चने को उबालकर चटपटा छौंका जाता है। इसको पूरी और दही के साथ खाते हैं। हलवा और खीर भी इस पर्व के लोकप्रिय पकवान हैं।

1947 के भारतीय स्वतन्त्रता संग्राम में जन जागरण के लिए भी इस पर्व का सहारा लिया गया। श्री रवीन्द्रनाथ ठाकुर ने बंग-भंग का विरोध करते समय रक्षाबंधन त्यौहार को बंगालनिवासियों के पारस्परिक भाईचारे तथा एकता का प्रतीक बनाकर इस त्यौहार का राजनीतिक उपयोग आरंभ किया।

'Raksha Bandhan Date in 2015' will be on Saturday, August 29. There are two essay on Rakhi or Raksha Bandhan or Rakshabandhan. First one is in Hindi Second one in in English.

IN ENGLISH Total- 661 words

Feel the spirit of Raksha Bandhan festival with these beautiful essays on Rakhi contributed by our visitors! You may also exhibit love for your sibling by sending your reflections on Raksha Bandhan festival or a short paragraph on Rakhi. Your Raksha Bandhan essay will be posted on this website with due acknowledgment to you.

Rakhi is a sacred thread embellished with sister's love and affection for her brother. On the day of Raksha Bandhan, sisters tie rakhi on the wrists of their brothers and express their love to them. After receiving the rakhi from a sister, a brother sincerely takes the responsibility of protecting her sister. In Indian tradition, the frangible thread of rakhi is considered even stronger than an iron chain as it strongly binds a brothers and a sisters in the circumference of mutual love and trust.
Read Full Essay »


Education related video! Below



Education related video! Below

Comments

Post a Comment

Add More Points to this ESSAY by writing in the COMMENT BOX !


Weekly Popular

Short Essay on LOKMANYA TILAK | Lokmanya Gangadar Tilak


20 lines 'My Home' Essay for Class 1 , 2| Pointwise


My Country Essay India For Kids for Class 1, 2


Rainy Day Essay For Kids | Class 1, 2 | School Essay


90 Words 'MySelf' Essay for Kids ( Point wise ) 16 Lines


My Best Friend Essay |For Class 3 | Class 2 Point wise


Essay on My Family for Class 1 , 2


Essay on 'My visit to a Park' For Class 4